संसदीय सचिव अंबिका सिंहदेव जी के द्वारा बताया गया आज डूबते हुए सूर्य भगवान का अर्ग देते हुए छठ का दूसराअर्ग संपन्न

कोरिया जिला से कमरुन निशा की रिपोर्ट

छत्तीसगढ़ जिला कोरिया बैकुंठपुर के संसदीय सचिव अंबिका सिंहदेव के द्वारा विस्तारपूर्वक बताया गया की छठ पूजा चार दिन तक चलती है । “सूर्य देव की आराधना” और “संतान के सुखी जीवन की कामना” के लिए समर्पित छठ पूजा हर वर्ष का​र्तिक मास के शुक्ल पक्ष की षष्ठी तिथि को होती है ।

छठ पूजा का प्रारंभ दो दिन पूर्व चतुर्थी तिथि को नहाय खाय से होता है, फिर पंचमी को लोहंडा और खरना होता है. उसके बाद षष्ठी तिथि को छठ पूजा होती है, जिसमें सूर्य देव को शाम का अर्ध्य अर्पित किया जाता है । इसके बाद अगले दिन सप्तमी को सूर्योदय के समय में उगते हुए सूर्य को अर्ध्य देते हैं और फिर पारण करके व्रत को पूरा किया जाता है ।

कार्तिक मास की षष्टी को छठ मनाई जाती है। छठे दिन पूजी जाने वाली षष्ठी मइया को बिहार में आसान भाषा में छठी मइया कहकर पुकारते हैं। मान्यता है कि छठ पूजा के दौरान पूजी जाने वाली यह माता सूर्य भगवान की बहन हैं। इसीलिए लोग सूर्य को अर्घ्य देकर छठ मैया को प्रसन्न करते हैं।

संसदीय सचिव अंबिका सिंह देव के द्वारा सभी आए हुए छठ पूजा में पूजा करने उन सभी को छठ पूजा की बहुत-बहुत बधाई एवं शुभकामनाएं

.

नगर पालिका अध्यक्ष अशोक जयसवाल जी के द्वारा छठ पूजा घाट में सभी छठ पूजा करने वाले बधाई एवं शुभकामनाएं दी गई
प्रदीप गुप्ता जी के द्वारा भी सभी छठ पूजा करने वालों को गाढ़ा गाढ़ा बधाई एवं शुभकामनाएं दी गई
संसदीय सचिव अंबिका सिंहदेव नगर पालिका अध्यक्ष अशोक जयसवाल जी प्रदीप गुप्ता जी अल्ताफ खान जी उर्फ छोटे भैया कल्ला दास महंत भूपेंद्र सिंह अजय सिंह समस्त कांग्रेश के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं के द्वारा छठ पूजा का बधाई एवं शुभकामनाएं दी गई भारी संख्या में उपस्थित रहे
वहीं पुराणों में मां दुर्गा के छठे रूप कात्यायनी देवी को भी छठ माता का ही रूप माना जाता है। छठ मइया को संतान देने वाली माता के नाम से भी जाना जाता है। मान्यता है कि जिन छठ पर्व संतान के लिए मनाया जाता है। खासकर वो जोड़े जिन्हें संतान का प्राप्ति नही हुई। वो छठ का व्रत रखते हैं, बाकि सभी अपने बच्चों की सुख-शांति के लिए छठ मनाते हैं।
सूर्यषष्ठीव्रत या #छठपूजा या #डालाछठ की हार्दिक-हार्दिक बधाई .
छठ घाट में छठ का पूजा करते हुए डूबते हुए सूर्य भगवान का अर्ग देते हुए छठ का दूसराअर्ग संपन्न कोरिया जिला बैकुंठपुर में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *