कम्प्युटर ऑपरेटरों ने मुख्यमंत्री सहायता कोष में दिए नगद तीन हजार ० प्रवासी मजदूरों की होगी सहायता

राशिद जमाल सिद्धकी
राजनांदगांव। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप और प्रदेश सरकार द्वारा जनहित में उठाए गए कदम को देखते हुए जनपद पंचायत राजनांदगांव में कलेक्टर दर पर कार्यरत 6 कम्प्युटर ऑपरेटरों द्वारा कोरोना वायरस से प्रवासी मजदूरों के बचाव हेतु 3000 रुपये नगद मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा किया गया। कम्प्युटर ऑपरेटरों मुख्य रूप से नारायण साहू, यशवंत, लोकेश, दिलीप, कोमल व केतन है।
कम्प्युटर ऑपरेटरों ने कहा कि कोरोना से जंग के लिए जनसहभागिता से अभिनव पहल करने की जरूरत है। आज का समय समाज के प्रति हमारी जिम्मेदारियों को समझने तथा इस महामारी के खिलाफ मिलकर लड़ने का है। इसी जिम्मेदारी का निर्वहन करते हुए कम्प्युटर ऑपरेटरों ने तीन हजार मुख्यमंत्री सहायता कोष में नगद दान करने की घोषणा की है। साथ ही उन्होंने लोगों से कोरोना से जंग में मदद के लिए आगे आने का आह्वान किया। कम्प्युटर ऑपरेटरों ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना के फैलाव को रोकने के लिए जारी दिशा-निर्देर्शों का पालन करते हुए लॉक-डाउन को सफल बनाने प्रत्येक नागरिकों को सहयोग करना होगा। कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे उपाय प्रशंसनीय है और लोगों को भी इसमें शामिल होकर सहयोग करना होगा। गौरतलब है कि देश में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं, इसे लेकर सरकार ने लॉकडाउन करते हुए गाइडलाइन जारी किया है।
कम्प्युटर ऑपरेटरों ने कहा कि कोरोना वायरस से सावधानी बरतकर बचा सकता है, इसलिए सभी सतर्क रहे और सार्वजनिक जगहों पर जाने से बचे। ऐहतियात के तौर पर जितना कम हो सकेए उतना कम बाहरी संपर्क में रहें। भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *