कोरोना से बचाव के लिए बन गया गीत राज्य के प्रसिद्ध गायक ने दिया स्वर

राशिद जमाल सिद्धकी
गंडई पंडरिया- कोरोना से बचाव व रोकथाम के लिए सभी विधाओं के लोग अपना योगदान दे रहें है । कोरोना की रोकथाम व बचाव के लिए गंडई में कई रचनात्मक प्रयास किए जा रहे हैं । दुधमोंगरा के प्रसिद्ध गायक गौतम चंद जैन द्वारा जबरदस्त प्रयास किया गया है उन्होंने हिंदी व छत्तीसगढ़ी भाषा मे गीत की कोरोना के लक्षण, लाकडाउन व रोकथाम के लिए संदेश दियाहै । छत्तीसगढ़ी व हिंदी गीतों की रिकॉर्डिंग नियाजी रेडियो सेंटर द्वारा की गयी है ।कोरोना की जागरूकता के गीतों के रचनाकार प्रसिद्ध साहित्यकार डॉ पीसी लाल यादव एवं शिक्षक शशांक यादव है,गीत के बोल है 1 कोरोना से डरो ना, काम तुम संयम से लेना। 2 तुमन घर मे राहो गा, अपन घर मे रहो जी, सब घर मे रहो गा । ओ फोकट के घूमईया, मानो तुम बात ला भैया। इस गीत को स्वर देने वाले दूध मोंगरा के प्रसिद्ध गायक गौतम चंद जैन ने बताया कि नगर पंचायत गंडई के सीएमओ खुमान सिंह कश्यप द्वारा मुझसे आग्रह किया गया था कि कला जगत के माध्यम से कोरोना की रोकथाम के लिए प्रयास हो , तब हमारी दुधमोंगरा की टीम ने प्रयास शुरू किया । गीत के माध्यम से संदेश जारी किया है जिसके तहत नियाजी रेडियो सेंटर गंडई के अच्छी रिकॉर्डिंग की गई है ।
गीतों में कोरोना के लक्षण सर्दी, खाँसी , बुखार व सांस फूलना, लाकडाउन का पालन करना, भीड़ से बचना, नियमित हाथ धुलाई, साफ सफाई, लक्षण होने पर चिकित्सालय व डाक्टर के पास जाना, कोरोना में बरती जानेवाली सावधानी को सुमधुर स्वर व लय गाया गया है । गंडई नगर के आसपास इस गीत को काफी सराहा जा रहा है नगर पंचायत के प्रचार माध्यम से पूरे नगर में इन गीतों का प्रचार प्रसार किया जा रहा है ।गौतम चंद जैन ने बताया कि लोगों को जागरूक करना जरूरी है । गीत की रिकार्डिंग के बाद दिल को सुकून मिला है कि विश्व मे फैली महामारी की लड़ाई में हम कलाकारों का भी योगदान है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *