एक निम्न दाब का क्षेत्र तटीय बांग्लादेश और उससे लगे पश्चिम बंगाल के ऊपर स्थित है, इसके साथ ऊपरी वायु का चक्रीय चक्रवाती घेरा 5.8 किलोमीटर ऊंचाई पर स्थित है

kamrun nisha

एक निम्न दाब का क्षेत्र तटीय बांग्लादेश और उससे लगे पश्चिम बंगाल के ऊपर स्थित है, इसके साथ ऊपरी वायु का चक्रीय चक्रवाती घेरा 5.8 किलोमीटर ऊंचाई पर स्थित है। इसके पश्चिम दिशा में आगे बढ़ते हुए पश्चिम बंगाल, झारखंड और बिहार की ओर अगले 48 घंटे में गमन संभावित है। मानसून द्रोणिका फिरोजपुर, रोहतक, अलीगढ़, प्रयागराज, डाल्टनगंज और उसके बाद पूर्व-दक्षिण-पूर्व की ओर निम्न दाब के केंद्र तक 0.9 km ऊंचाई तक विस्तारित है। एक ऊपरी हवा चक्रवाती घेरा पूर्वी उत्तर प्रदेश के ऊपर 1.5 किलोमीटर से 4.5 किलोमीटर ऊंचाई तक स्थित है।

कल दिनांक 30 जुलाई को प्रदेश के अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने अथवा गरज चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। प्रदेश में कुछ स्थानों पर भारी वर्षा होने तथा एक-दो स्थानों पर अति भारी से चरम भारी वर्षा होने की संभावना है। भारी वर्षा का क्षेत्र मुख्यतः मध्य छत्तीसगढ़ अति से चरम भारी वर्षा का क्षेत्र सरगुजा संभाग के उत्तरी भाग रहने की संभावना है।

प्रदेश में अधिकतम तापमान में विशेष परिवर्तन होने की संभावना नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *