जिला अस्पताल बैकुंठपुर में नदारद नर्स सिस्टर सच्चाई के साथ अपना दायित्व नहीं निभा रहे हैं डॉक्टर इमरान सच्चाई के साथ कर रहे इलाज मरीजों का

जिला अस्पताल बैकुंठपुर में नदारद नर्स सिस्टर सच्चाई के साथ अपना दायित्व नहीं निभा रहे हैं डॉक्टर इमरान सच्चाई के साथ कर रहे इलाज मरीजों क

Kamrun nisha

छत्तीसगढ़ जिला कोरिया बैकुंठपुर के जिला अस्पताल इन दिनों सुर्खियां बटोर रहा है जिला अस्पताल में मरीज आते जरूर है पर उनका इलाज पूरे ईमानदारी के साथ नहीं होता जो नर्स सिस्टर की ड्यूटी रात के समय लगाया जाता है नर्स सिस्टर अपना काम ईमानदारी के साथ नहीं करते जिला अस्पताल कोरिया में मरीज बिस्तर पर तड़पते रहते हैं

जिन नर्सों के द्वारा इंजेक्शन बॉटल लगाया जाता है उनको खुद नहीं पता रहता है कि किस तरह लगाया जाए मरीज के हाथ में बॉटल लगाने के लिए सुई लगाई जाती है हाथों मे मरीजों के हाथ से ब्लड फेंक देता है और बेरहमी से बॉटल सुई लगाकर नदारद हो जाते हैं एक मरीज पैरालिसिस से ग्रसित होकर कल रात को जिला अस्पताल में एडमिट किया गया बताया जा रहा है

आपको किसी भी वार्ड के अंदर नर्स सिस्टर दिखाई नहीं देंगे मरीज तड़पते रहते हैं बार-बार सिस्टर नर्स को बुलाते हैं लेकिन सिस्टर नर्स अपने रूम में घुस जाते हैं बेहोशी के खर्राटे लेते रहते हैं कितनी शर्म की बात है।

कि नागपुर के हैं डॉक्टर इमरान के द्वारा अच्छे तरीके से देखा गया और इंजेक्शन बॉटल चलाने के लिए सिस्टर को बोला गया है लेकिन डॉक्टर इमरान के द्वारा ईमानदारी के साथ अपना सेवा दे रहे हैं जिला अस्पताल में और भरपूर कोशिश कर रहे हैं कि मरीजों का इलाज अच्छे से मेरे द्वारा किया जाए


लेकिन आपको बता दें कि जिला अस्पताल बैकुंठपुर मे मरीज को भर्ती तो किया जाता है लेकिन नर्स सिस्टरओं के द्वारा रात में ईमानदारी के साथ अपनी ड्यूटी नहीं की जा रही है हम आपको दिखाते हैं मरीज वार्ड की झलकियां रात के समय एक भी नर्स सिस्टर दिखाई नहीं देते खाली खर्राटे नींद के भरते रहते हैं बड़ी शर्म की बात है जिला मुख्यालय बैकुंठपुर अस्पताल की घटना है

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा जब से अपना कार्यकाल संभाले उसी दिन से स्वास्थ्य विभाग पर उन्होंने अपना पूरा फोकस किया लेकिन जिला अस्पताल बैकुंठपुर के नर्स सिस्टर ने तो स्वास्थ्य विभाग को फेल करने में लगी हुई है अब मुख्यमंत्री क्या करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.