प्रदेश में बिगड़ती कानून-व्यवस्था को लेकर भाजपा महिला मोर्चा ने दिया धरना

कमरून निशा

प्रदेश में बिगड़ती कानून-व्यवस्था को लेकर भाजपा महिला मोर्चा ने दिया धरना
महिला उत्पीड़न और दुष्कर्म के मामले प्रदेश में बढ़ गए हैं, सरकार इसे रोकने में नाकाम है
जागो भूपेश सरकार जागो के लगाए नारे

जिला कोरिया बैकुण्ठपुर – भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर छत्तीसगढ़ में बढ़ती दुष्कर्म की घटनाएं और महिलाओं के साथ लगातार बढ़ते अपराधों को लेकर भाजपा महिला मोर्चा के द्वारा मातृशक्ति स्वाभिमान मार्च कार्यक्रम के तहत एक दिवसीय धरना प्रदर्शन एवं कांग्रेस सरकार के खिलाफ हल्ला बोल कार्यक्रम के बाद राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौपे गये। इस अवसर पर

प्रमुख रूप किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्यामबिहारी जायसवाल, जिलाध्यक्ष कृष्णबिहारी जायसवाल, महिला मोर्चा के प्रदेश महामंत्री चम्पादेवी पावले, जिला पंचायत अध्यक्ष रेणुका सिंह, जिला उपाध्यक्ष शैलेष शिवहरे, देवेन्द्र तिवारी, विरेन्द्र राणा, जिला महामंत्री जमुना पाण्डेय, महिला मोर्चा अध्यक्ष उर्मिला नेताम, जनपद अध्यक्ष सौभाग्यवती सिंह,सोनमती उर्रे, नपं अध्यक्ष धीरेन्द्र विश्वकर्मा, किसान मोर्चा प्रदेश मंत्री गोमती द्विवेदी, जिला मंत्री पंकज गुप्ता, अनुपमा निशी,अनिता देवी, जिला पंचायत सदस्य चुन्नी पैकरा, सुनिता कुर्रे, जयाकर, प्रवीण सिंह, पुष्पा राजवाड़े, किसान मोर्चा अध्यक्ष विनोद साहू, अल्प संख्यक मोर्चा अध्यक्ष अंकुर जैन उपस्थित थे। किसाना मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष श्यामबिहारी जायसवाल ने कहा कि, प्रदेश में जबसे कांग्रेस सत्ता में आई है तबसे कानून व्यवस्था बदहाल होती जा रही है। प्रदेश की बहन-बेटियों के विरूद्ध नृशंस अपराधों में बेतहाशा वृद्धि हुई है। शांति का टापू कहलाने वाला अपना छत्तीसगढ़ देखते ही देखते अशांत और असुरक्षित कर दिया गया है। यहां बहन-बेटियों समेत किसी की भी जान/सम्मान यहां सुरक्षित नहीं रह गया है। समाज के कमजोर तबके के लोगो से अत्याचार चरम पर है। जिलाध्यक्ष कृष्णबिहारी जायसवाल ने कहा कि, प्रदेश में राष्ट्रपति के दत्तक पुत्र का संरक्षण प्राप्त कोरवा जनजाति की नाबालिक बच्ची से सामूहिक दुष्कर्म और पिता-बहन समेत उनकी नृशंक हत्या ने इस तिहरे हत्याकांड ने तो प्रदेश को झकझोर कर रख दिया है। खबरों के अनुसार 16 वर्ष की कोरवा किशोरी से दूसरी शादी करने का मंसूबा ध्वस्त होने पर हैवानो ने सामूहिक दुष्कर्म कर उसके पिता और बहन समेत नृशंक हत्या कर दी। सबसे बड़ा दुर्भाग्य है कि, इसके बावजूद इसके प्रदेश सरकार की सेहत पर कोई असर नहीं पड़ रहा है। महिला मोर्चा के प्रदेश महामंत्री चम्पादेवी पावले ने कहा कि, प्रदेश में आए दिन अपराध बढ़ रही है प्रदेश सरकार इस पर लगाम लागने में असफल हो रही है हाल ही में एक दर्दनाक घटना बस्तर के केशकाल से सामने आई थी वहां नाबालिग आदिवासी किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया , बल्कि कहीं से न्याय नहीं मिलने पर उसने आत्महत्या भी कर ली। फिर भी मामले को दबाने की भरसक कोशिश की गई। अंत में किशोरी के पिता ने भी आत्महत्या की कोशिश की तब मामला बाहर आ पाया है। इससे पहले प्रदेश के सरगुजा संभाग के धरमजयगढ़, सुकमा, रायगढ़, बलरामपुर सहित प्रदेश भर में कही न कही ऐसे घटनाएं लगातार बढ़ रही है कही भी शासन के किसी जिम्मेदार व्यक्ति के कान पर जूं तक नहीं रेंगी है। महिला मोर्चा के जिलाध्यक्ष उर्मिला नेताम ने कहा कि, कांग्रेस सरकार के कैबिनेट मंत्री शिव डहरिया कहते है प्रदेश में जो दुष्कर्म हुए वह छोटा अपराध है। दुखद यह कि किसी अन्य प्रदेश में घटी घटना अगर राजनीतिक दृष्टि से अनुकूल हो तो तुरंत उस पर भी प्रतिक्रिया देने वाले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी न तो ऐसे बयानों से असहमति जताते है और न ही खुद कुछ बोलते है, जाहिर है यहां की घटनाएं सीएम को भी छोटी ही लगती है। ऐसी मंश वाली कांग्रेस सरकार से कोई उम्मीद रखना बेमानी है। प्रदेश में रोज घटित हो रही इन तमाम घृणित घटनाओं पर मौन वास्तव में निंदनीय है। उन्होंने कहा कि, आने वाले समय में भाजपा महिला मोर्चा द्वारा कांग्रेस सरकार के खिलाफ सड़क से सदन तक धरना प्रदर्शन करेगी। जनपद अध्यक्ष सौभाग्यवती सिंह ने कहा कि, प्रदेश में जब से कांग्रेस की सरकार सत्ता में आई है दलितों, आदिवासियों समेत समाज के हर वर्ग के खिलाफ संगीन अपराधों की घटनाओं में बेतहाशा वृद्धि हुई है। महिलाओं के खिलाफ दुष्कर्म एवं अन्य मामलों की वृद्धि हुई है। कांग्रेस सरकार न केवल पूरी तरह से खामोश है, बल्कि कांग्रेस सरकार के मंत्री इसे छोटा अपराध कहते हैं। कार्यक्रम को अन्य वक्ताओं ने भी संबोधित किया। वक्ताओं ने एक स्वर में कांग्रेस सरकार के खिलाफ आरोप लगाया कि महिला उत्पीड़न और दुष्कर्म के मामले प्रदेश में बढ़ गए हैं, सरकार इसे रोकने में नाकाम है। इस अवसर पर पूर्व सभापति कीर्ति वासो, पूर्व नपाध्यक्ष राजेश सिंह, जिला कार्यालय मंत्री तीरथ राजवाड़े, किसान मोर्चा जिला महामंत्री श्यामबिहारी जायसवाल, मंडल अध्यक्ष भानूपाल,समाउदीन सिद्धिकी, अनिता तिवारी, रेखा सिंह,सुशीला राजवाड़े, कीर्ति राणा, रूबी पासी, वंदना राजवाड़े, मंडल अध्यक्ष ईश्वर राजवाड़े, विनोद गुप्ता, अरूण जायसवाल, रघुनंदन यादव, पवन शुक्ला, धनेश यादव, सुभाष साहू, शारदा गुप्ता, हर्षल गप्ता, प्रखर गुप्ता,सतेन्द्र राजवाड़े, मनोज शुक्ला, बबलू सिंह सहित महिला मोर्चा के कार्यकर्ता भारी संख्या में उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *