कोरोना काल में भूपेश सरकार ने सभी वर्गों को राहत दिलाने उठाए महत्वपूर्ण प्रभावी कदम : डॉ प्रेमचंद जायसी

कोरिया जिला से कमरुन निशा की रिपोर्ट

०० भूपेश सरकार ने नरवा, गरूवा, घुरवा, बाड़ी जैसी महत्वकांक्षी योजनाए लागू कर किसान, श्रमिक, ग्रामीण जनता को पहुचाया लाभ

०० कोरोना संक्रमण काल में रोजगार के अवसर, राशन की पर्याप्त उपलब्धता करने वाली कांग्रेस सरकार

रायपुर| प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष प्रेमचंद जायसी ने कहा कि कारोना संक्रमण को लेकर कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेता श्री राहुल गांधी ने कई माह पहले पीएम मोदी को आगाह करा दिया था, जिसके बावजूद मोदी सरकार ने इस ओर रुचि नही दिखाया बल्कि कोरोना को लेकर राजनीति करते रहे तथा 22 मार्च को प्रधानमंत्री अचानक टीवी पर आए और लाकडॉउन के लिए अनिश्चित कालीन के लिए घोषणा कर दिया| अचानक हुए लॉकडाउन से छत्तीसगढ़ ही नही पूरे देश मे हाहाकार मच गया वही दूसरे प्रदेश में रोजी रोटी के लिए गए प्रदेश के श्रमिकों का जीना दूभर हो गया| मजदूरो को खाने पीने तक के लिए हाहाकार मच गया लेकिन प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने लगातार श्रमिको व बाहर देश मे फसे लोगो के लिए प्रदेश सरकार स्वयं अपने खर्च में छत्तीसगढ़ वापसी लिए केंद्र सरकार से निवेदन सहित कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेतृत्त्व से भी इस बाबत कर निश्चय कर पूरे देश मे जहां लोग फंसे थे उन्हें लाने के लिए भूपेश सरकार ने ट्रेन व बस की सुविधा शासन के खर्चे से मजदूर और यात्रियों के लिए मुहैय्या कराई साथ ही देश प्रदेश के विभिन्न जिलों के मजदूरो-यात्रियों को उनके घर ससम्मान पूर्वक पहुँचवाकर अपने सहृदय और सच्ची मानवता का परिचय दिया वही केंद्र की मोदी सरकार तो हमारे श्रमिक और दूसरे जगह गए यात्री भाइयो को मरने की हालत में छोड़ दिए थे।

प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष प्रेमचंद जायसी ने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण से बचाव और राहत व्यवस्था को लेकर आरम्भ से ही प्रदेश कांग्रेस की भूपेश सरकार ने उपयोगी एवं प्रभावी कदम उठाए, इस दौरान मुख्यमंत्री ने आमजनता से अपने उद्बोधन में कहा कि छत्तीसगढ़ कोरोना से लड़ाई में जरूर जीतेगा, उन्होंने कहा हमें थकना नहीं है, निराश नहीं होना है बल्कि तत्परता से इस लड़ाई को लड़ना है। मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी जिलो के कलेक्टरों की सराहना करते हुए कहा कि कोरोना महामारी रोकथाम के दौरान सभी जिलों का कार्य प्रशंसनीय रहा रविवार, शनिवार सहित सभी त्यौहारों के दिन अधिकारी-कर्मचारियों ने काम किया है| प्रदेश की पुलिस ने उचित कदम उठाते हुए सराहनीय कार्य किए, दुर्ग, रायपुर, बिलासपुर आईजी ने पैदल चलने वालों के लिए अच्छा काम किया प्रवासी मजदूरों के लिए आवश्यक व्यवस्था के साथ चप्पलों की भी व्यवस्था की गई। विभिन्न राज्यों के लिए नामांकित नोडल अधिकारियों ने प्रशंसनीय कार्य किया। रायपुर जिला प्रशासन ने भी अच्छा काम किया है क्वारंटाइन सेंटरों में भी अच्छी व्यवस्था की गई है, औद्योगिक उत्पादन और रोजगार देने में छत्तीसगढ़ अग्रणी रहा है। प्रदेश की भूपेश सरकार ने ग्रामीण क्षेत्रों के साथ नगरीय क्षेत्रों में भी रोजगार उपलब्ध कराया गया है, मनरेगा अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में अच्छा काम किया लोगों को व्यापक रोजगार दिया गया है समय पर मजदूरी भुगतान भी किया जा रहा है। कोरोना महामारी के दौरान सरकार ने कोरोना महामारी नियंत्रण, राहत व्यवस्था और रणनीति, लोक सेवा गारंटी अधिनियम, नरवा, गरूवा, घुरवा, बाड़ी योजना हाट बाजार क्लीनिक योजना, इंग्लिश मीडियम स्कूलों की स्थापना, मुख्यमंत्री शहर स्लम स्वास्थ्य योजना, सुपोषण अभियान, ग्रामीण भूमिहीन मजदूर परिवारों का चिन्हांकन, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना, लघु वनोपजों का संग्रहण और प्रसंस्करण, वन अधिकार अधिनियम, खाद्य प्रसंस्करण, लघु वनोपज प्रसंस्करण इकाईयों की स्थापना

धान के अलावा अन्य फसलों को बढ़ावा देने हेतु कार्य योजना, शालाओं के शुरू करने से पहले उनके रंग-रोगन और आवश्यक मरम्मत, मनरेगा की प्रगति, भूमि का आबंटन और नियमितीकरण, शहरी स्लम पट्टो का नवीनीकरण व फ्री होल्ड करना, शासकीय हॉस्टल-आश्रम भवनों में आवश्यक सुविधाओं की उपलब्धता, जिलों में टिड्डी की समस्या, रेन वाटर हर्वेस्टिंग, कोविड संकट के दौरान राज्य में वापस लौटे प्रवासी श्रमिकों के लिए राशन कार्ड, जॉब कार्ड एवं लेबर कार्ड की समुचित व्यवस्था सहित कई महत्वकांक्षी योजनाए आरम्भ की जिससे किसान, श्रमिक, आमजन को लाभ मिला|

Leave a Reply

Your email address will not be published.